Hi, I am Anup founder of Indo Blogging. In indo blogging, you will find Blogging and youtube tips. I am also sharing some valuable tips related to Social Media Marketing.

Paxful | Bitcoin Wallet 4+

Paxful is a peer-to-peer platform for buying, selling, and trading digital currencies. We believe in equal access to finance, enabling users to trade crypto and earn money in a safe, secure environment.

We’re changing how the world moves money and embraces cryptocurrencies like Bitcoin, allowing transfers with anyone, anywhere, at any time. The Paxful Bitcoin Wallet app is the ultimate companion tool to our platform.

TRADE CRYPTO WITH HUNDREDS OF PAYMENT METHODS

Paxful allows you to buy cryptocurrencies and convert money with your choice of over 350 payment methods, including gift cards, debit and credit cards, bank transfers, online wallets, and more.

Easily send, receive, store, and convert Bitcoin and other digital currencies. Use your unique wallet address or QR code to make quick transfers with millions of traders from around the world.

TRADE BITCOIN (BTC)

Trade the world’s foremost digital currency with millions of users around the world. Use your BTC wallet to keep an eye on the market and buy Bitcoin when it’s low and sell Bitcoin at a higher rate to earn money.

TRADE TETHER (USDT)

Tether was created to maintain the same value as the USD. Now you can buy USDT or sell it to other Paxful users. You also have the option to convert your Bitcoin to Tether or Ethereum and vice versa directly through your Paxful Wallet to protect your crypto from sudden price volatility.

TRADE ETHER (ETH)

Ethereum has finally arrived at Paxful. You can now buy Ethereum coins on our platform at a lower price than other exchanges using over 350 payment options. Start buying and selling Ethereum today right from your Paxful Wallet.

A TRUSTED WALLET

Safely store your crypto in your own personal mobile cryptocurrency wallet, which you’ll receive for free upon creating your account. Enable two-factor authentication for an added layer of protection. Take it everywhere you go and check your balance any time.

We keep our sendout fees low so everyone can have access to crypto and the global financial market. And there are no fees at all when you’re buying crypto on Paxful so you can get BTC, USDT, and ETH with no hassle at all.

NEVER MISS A TRADE

Track all of your open trades on Paxful and keep tabs on your most recent transactions as you trade crypto. You’ll also receive updated crypto-to-fiat conversion rates in real time.

We offer ID and address verification to ensure the safety of our users. Verified accounts can enjoy additional benefits on Paxful. ID and address verification can be done in just a few hours.

A dedicated customer support team is here to serve our users 24 hours a day, 7 days a week. Whether you’re having trouble with a trade or just have a question, you can be sure that a Paxful representative will be available to help.

A GLOBAL PLATFORM

We’re a truly global community, with over 5 million users coming from every corner of the world. Choose from over 20 different languages that are available through the Bitcoin Wallet app.

Digital currencies should be accessible to everyone and Paxful believes in wealth for the 100%, not just the 1%. Are you ready to start your crypto journey and begin shaping your financial future? Download the Paxful Bitcoin Wallet app now to put the power of Paxful in your hands.

Bitcoin और Bitcoin wallet क्या है और ये कैसे कार्य बिटकॉइन वॉलेट क्या है? करता है? I What is a bitcoin wallet and how does it work?

बिटकॉइन एक प्रकार की क्रिप्टोकर्रेंसी है। बिटकॉइन एक ऐसी डिजिटल मुद्रा है, जो 2009 में एक अज्ञात व्यक्ति द्वारा उर्फ सातोशी नाकामोटो ने बनाई गई थी। इसे जनवरी 2009 में हाउसिंग मार्केट क्रैश के बाद बनाया गया था। इसकी लें देन बिटकॉइन वॉलेट क्या है? किसी बिटकॉइन वॉलेट क्या है? भी मध्यस्ती के बिना किया जाता है।

बिटकॉइन पारंपरिक ऑनलाइन पेमेंट ट्रांसक्शन की तुलना में कम लेनदेन शुल्क का वादा करता है। किसी भी बिटकॉइन फिजिकली उपलब्ध बिटकॉइन वॉलेट क्या है? नहीं है। यह एक पब्लिक ledger पर रखी गई शेष राशि है जिसका किसीको भी एक्सेस करना आसान है। बिटकॉइन टोकन के बैलेंस को पब्लिक और प्राइवेट “key” का उपयोग करके रखा जाता है, जो गणितीय एन्क्रिप्शन एल्गोरिथम के माध्यम से लिंक किए गए संख्याओं और अक्षरों के लंबे स्ट्रिंग हैं, जो उन्हें बनाने के लिए उपयोग किया गया था।

%25E0%25A4%25AC%25E0%25A4%25BF%25E0%25A4%259F%25E0%25A4%2595%25E0%25A5%2589%25E0%25A4%2587%25E0%25A4%25A8%2B%25E0%25A4%2595%25E0%25A5%2587%2B%25E0%25A4%25AC%25E0%25A4%25BE%25E0%25A4%25B0%25E0%25A5%2587%2B%25E0%25A4%25AE%25E0%25A5%2587%25E0%25A4%2582 min

बिटकॉइन मुद्रा का उपयोग 2009 में शुरू हुआ जब इसके कार्यान्वयन को ओपन-सोर्स सॉफ्टवेयर के रूप में जारी किया गया था। लेनदेन को क्रिप्टोग्राफी के माध्यम से नेटवर्क नोड्स द्वारा सत्यापित किया जाता है और एक ब्लॉकचैन नामक एक पब्लिक डिस्ट्रिब्यूटेड लेज़र(ledger) में दर्ज किया जाता है। बिटकॉइन को एक प्रक्रिया के लिए एक पुरस्कार के रूप में बनाया जाता है जिसे माइनिंग के रूप में जाना जाता है। उन्हें अन्य मुद्राओं, उत्पादों और सेवाओं के लिए आदान-प्रदान किया जा सकता है।

बिटकॉइन केंद्रीय बैंक या मौद्रिक अधिकारियों द्वारा नियंत्रित डॉलर, यूरो या रूपए की तरह कागजी धन नहीं हैं। बिटकॉइन एक क्रिप्टोक्यूरेंसी का पहला उदाहरण है, जो दुनिया भर में उन्नत कंप्यूटर सॉफ़्टवेयर का उपयोग करके लोगों और व्यवसायों द्वारा निर्मित किया जाता है। बिटकॉइन को सेकंड में प्राप्त करने या स्थानांतरित करने के लिए कंप्यूटर वाला कोई भी व्यक्ति Bitcoin एड्रेस सेट कर सकता है। बिटकॉइन गुमनाम है, और क्रिप्टोक्यूरेंसी उपयोगकर्ताओं को कई पते बनाए रखने की अनुमति देती है, और एक पते की स्थापना के लिए किसी भी व्यक्तिगत जानकारी की आवश्यकता नहीं होती है।
केंद्रीय बैंक या मोनेटरी ऑथोरिटीज बिटकॉइन की संख्या को नियंत्रित नहीं करते हैं, और यह विकेंद्रीकृत है, जिससे यह ग्लोबल हो जाता है।

बिटकॉइन कैसे काम करता है?

बिटकॉइन एक पेमेंट और वैल्यू ट्रांसफर करने का तरीका है। जो केंद्रीय बैंकों की तरह सरकारी ऑथोरिटीज से स्वतंत्र है। साथ ही कम लेनदेन शुल्क के साथ तुरंत कंप्यूटर के माध्यम से स्थानान्तरण किया जाता है। बिटकॉइन की निश्चित संपत्ति केवल 21 मिलियन ही है। उन्नत गणितीय समस्याओं को हल करने से बिटकॉइन का माइनिंग होता है। हालांकि, बिटकॉइन विभाज्य है, इसलिए विनिमय माध्यम के लिए विकास क्षमता असीमित है। बिटकॉइन के साथ आए सबसे दिलचस्प आविष्कारों में से एक ब्लॉकचेन है और डिस्ट्रिब्यूटेड ledger टेक्नोलॉजी है। DLT ओनरशिप को ट्रैक करता है और बिटकॉइन के तत्काल और कुशल हस्तांतरण के लिए अनुमति देता है।

बिटकॉइन वॉलेट क्या है?

बिटकॉइन वॉलेट को डिजिटल वॉलेट भी कहा जाता है। एक बिटकॉइन वॉलेट एक सॉफ्टवेयर प्रोग्राम है जिसमें बिटकॉइन संग्रहीत किए जाते हैं। तकनीकी रूप से, बिटकॉइन कहीं भी संग्रहीत नहीं हैं। हर उस व्यक्ति के लिए जिसके पास बिटकॉइन वॉलेट में एक बैलेंस है, उस वॉलेट के बिटकॉइन पते के अनुरूप एक प्राइवेट की(key) है। बिटकॉइन वॉलेट बिटकॉइन भेजने और प्राप्त करने की सुविधा प्रदान करते हैं और उपयोगकर्ता को बिटकॉइन बैलेंस का ओनरशिप मिलती हैं। बिटकॉइन वॉलेट कई रूपों में आता है। चार मुख्य प्रकार डेस्कटॉप, मोबाइल, वेब और हार्डवेयर हैं।

डेस्कटॉप वॉलेट

डेस्कटॉप वॉलेट कंप्यूटर के डेस्कटॉप पे इंस्टॉल किया जाता है। इसका यूजर के वॉलेट पे पूरा नियंत्रण होता है। उपयोगकर्ता को बिटकॉइन भेजने और प्राप्त करने के लिए डेस्कटॉप वॉलेट एक पते के रूप में कार्य करता है। वे उपयोगकर्ता को उसकी प्राइवेट की को स्टोर करने की भी अनुमति देता हैं।

मोबाइल वॉलेट

मोबाइल वॉलेट साधारण डेस्कटॉप वॉलेट की तरह ही कार्य करता है। यह मोबाइल पे बिटकॉइन वॉलेट में iOS या Android सिस्टम संगत होता है। मोबाइल वॉलेट “टच-टू-पे” और क्यूआर कोड के क्षेत्र संचार (एनएफसी) स्कैनिंग के माध्यम से फिजिकल दुकानों में पेमेंट की सुविधा प्रदान करते हैं।

वेब वॉलेट

वेब वॉलेट के जरिये आप मोबाइल वेब से या कोई ब्राउज़र से बिटकॉइन तक पहुंच की सुविधा प्राप्त कर सकते है। आपके वेब वॉलेट का चयन सावधानीपूर्वक किया जाना चाहिए क्योंकि यह आपकी प्राइवेट की को ऑनलाइन संग्रहीत करता है। कॉइनबेस और ब्लॉकचैन लोकप्रिय वेब वॉलेट प्रदाता हैं।

हार्डवेयर वॉलेट

हार्डवेयर वॉलेट अब तक बिटकॉइन वॉलेट का सबसे सुरक्षित प्रकार बिटकॉइन वॉलेट क्या है? है बिटकॉइन वॉलेट क्या है? क्योंकि वे बिटकॉइन को एक फिजिकल पीस के तौर पर संगृहीत करता है। जो की आमतौर पर एक यूएसबी पोर्ट के माध्यम से कंप्यूटर में प्लग किया जाता है। वे वायरस के हमलों के लिए व्यावहारिक रूप से प्रतिरक्षक हैं।

गुमनाम तरीके से मॉल खरीदने के लिए बिटकॉइन का इस्तेमाल किया जाता है। अंतर्राष्ट्रीय लेवल पर पेमेंट आसान और सस्ते हैं, क्योंकि बिटकॉइन किसी भी देश या विनियमन के अधीन नहीं हैं। “बिटकॉइन एक्सचेंज” नामक कई मार्केटप्लेस विभिन्न मुद्राओं का उपयोग करके लोगों को बिटकॉइन खरीदने या बेचने की अनुमति देते हैं। कुछ लोग सिर्फ निवेश के रूप में बिटकॉइन खरीदते हैं, उम्मीद करते हैं कि वे मूल्य में ऊपर जाएंगे।

बिटकॉइन वॉलेट क्या है?

Follow me on twittter

JOIN MY TELEGRAM GROUP

Telegram channel

JOIN ME ON PINTEREST

Pinterest

JOIN OUR VIP FACEBOOK PAGE

Facebook

JOIN ME ON INSTAGRAM

INSTAGRAM

This Website is DMCA Protected

DMCA.com Protection Status

पृष्ठ

श्रेणियां

    (37) (70) (33) (86) (49)

indo Blogging


Hi, I am Anup founder of Indo Blogging. In indo blogging, you will find Blogging and youtube tips. I am also sharing some valuable tips related to Social Media Marketing.

बिटकॉइन क्या होता है? बिटकॉइन कैसे बनता है? बिटकॉइन कैसे खरीदें ?

bitcoin kya hai, definition, meaning, cryptocurrency, buy-sell and more

bitcoin kya hai

Bitcoin Kya hai ? What is Bitcoin in Hindi –

बिटकॉइन क्या है ? (bitcoin kya hai) बिटकॉइन का प्राइस क्या ? बिटकॉइन कैसे ख़रीदे? बिटकॉइन क्या होता है ? बिटकॉइन कैसे बनता है ? बिटकॉइन अकाउंट ? बिटकॉइन रेट क्या है ?

बिटकॉइन से जुड़े हुए ये कुछ ऐसे सवाल हैं जिनके बारे में हर कोई जानना चाहता है. बिटकॉइन की कीमत के बारे में बात करें तो यह 28,91,153.04 भारतीय रुपया है. काफी टाइम से बिटकॉइन के प्राइस में कभी उतार तो उछाल देखने को मिल रहा है. वहीं अगर डॉलर में बिटकॉइन की कीमत बताएं तो यह 39,529.00 United States Dollar है.

कई बार ऐसा भी समय आया जब यह कहा जाने लगा कि दुनिया की सबसे बड़ी क्रिप्टोकरेंसी बिटक्वाइन की कीमत एक करोड़ रुपए तक पहुँच सकती है. देखने को मिला था कि क्रिप्टोकरेंसी भुगतान पर पूर्ण प्रतिबंध हटाने के आरबीआई के आदेश के बाद बड़ी संख्या में भारतीय निवेशकों ने क्रिप्टोकरेंसी की तरफ अपना रुख किया था. चलिए जानते हैं बिटकॉइन से जुड़े कुछ सवालों के जवाब :-

बिटकॉइन क्या होता है? (what is bitcoin in hindi, bitcoin kya hai)

जैसे rupees और dollar होता है वैसे ही bitcoin भी एक currency है, लेकिन यह एक Virtual currency यानी Cryptocurrency है. अंग्रेजी शब्द ‘क्रिप्टो’ का अर्थ गुप्त होता है. Bitcoin भी एक तरह की currency है, लेकिन यह दूसरी currency से बहुत अलग है. दूसरी currency की तरह आप इसे ना तो देख सकते हैं और ना ही छू सकते है. Bitcoin को आप सिर्फ online wallet में ही रख सकते है.

Central Vista Project क्या है? जानिए क्या-क्या बनेगा? और कितनी आएगी लागत?

बिटकॉइन कैसे बनता है? (How Bitcoin is made)

बिटकॉइन का आविष्कार साल 2009 में सतोषी नाकामोटो ने किया था.

बिटकॉइन का मालिक कौन है? (Who owns bitcoin)

Bitcoin का इस्तेमाल कोई भी कर सकता है. Bitcoin भी internet की तरह है. यानी Bitcoin एक decentralized currency है. इसे कोई भी control नहीं करता है. कोई भी bank या authority या सरकार यानि की कोई इसका मालिक नहीं है.

बिटकॉइन कैसे काम करता है? (How does bitcoin work)

बता दे कि बिटकॉइन का इस्तेमाल online payment करने के लिए किया जाता है. बिटकॉइन peer to peer network पर काम करता है. इसमें दो व्यक्ति बिना किसी bank, credit card या company के माध्यम से transactions कर सकते है. बिटकॉइन एक पर्सनल e- wallet से दूसरे पर्सनल e- wallet में ट्रांसफर किए जाते हैं. ये e- wallets आपका निजी डेटाबेस होते हैं, जिसे आप अपने कंप्यूटर, लैपटॉप, स्मार्टफोन, टैबलेट या किसी ई-क्लाउड पर स्टोर करते हैं.

बिटकॉइन कैसे कमाए? (How to earn bitcoin)

1. बिटकॉइन हासिल करने के तीन तरीके है. पहला तरीका यह है कि आप सीधे पैसे देकर बिटकॉइन खरीद सकते हैं. बाद में उसकी कीमत बढ़ने पर उसे बेचकर मुनाफा कमा सकते हैं. हालांकि इसमें जोखिम भी बहुत होता है क्यों कि कभी-कभी कुछ घंटों में ही बिटकॉइन की कीमत 30 से 40 प्रतिशत तक गिर बिटकॉइन वॉलेट क्या है? जाती है. अगर आपके पास बिटकॉइन खरीदने के पैसे नहीं है तो आप उसकी छोटी यूनिट ‘satoshi’ भी खरीद सकते है. जैसे 1 रुपए में 100 पैसे बिटकॉइन वॉलेट क्या है? होते हैं, उसी तरह 1 बिटकॉइन में 10 करोड़ ‘satoshi’ होते है.

खुद के सपने नहीं हुए पूरे लेकिन बेटियों के सपनों को पूरा कर रही हैं कौसर बानो

2. दूसरा तरीका यह है कि अगर आप अपनी कोई चीज ऑनलाइन बेच रहे हो और सामने वाले व्यक्ति के पास bitcoin है तो आप अपनी चीज के बदले उससे bitcoin भी ले सकते है. इस bitcoin को आप अपने bitcoin wallet में store करके रख सकते है. बाद आप bitcoin को बेचकर आए रुपयों को अपने bank में transfer कर सकते है.

3. तीसरा तरीका यह है कि अगर आपके पास High speed processor वाला computer है तो बिटकॉइन वॉलेट क्या है? आप bitcoin mining का काम भी कर सकते है. Bitcoin miner का काम होता है कि वह bitcoin में होने वाले transjaction को verify करने का काम करता है. इसके बदले उन्हें कुछ Bitcoin इनाम के तौर पर मिलते है. इससे मार्किट में नए Bitcoin आते हैं.

बाजार में कितने बिटकॉइन है? (How many bitcoins are in the market)

बता दे कि जिस तरह हर देश में currency छापने की एक सीमा होती है, उसी तरह bitcoin की भी एक सीमा है. दरअसल मार्किट में कभी भी 21 million से ज्यादा bitcoins नहीं आ सकते है. इस समय मार्केट में 13 million bitcoins है. बाकी bitcoins mining के जरिए मार्किट में आएंगे.

बिटकॉइन के क्या फायदे है? (What are benefits of bitcoin)

बिटकॉइन का सबसे बड़ा फायदा यह है कि इसमें transaction करने की फीस credit card और debite card के मुकाबले काफी कम होती है. credit card और debite card की तरह इसका अकाउंट कभी भी ब्लाक नहीं होता है. इसके अलावा लंबे समय के लिए invest करने के लिए bitcoin एक अच्छा विकल्प साबित हो सकता है.

बिटकॉइन के नुकसान क्या है? (What are disadvantages of bitcoin)

बिटकॉइन का एक नुकसान यह भी है कि इसके ऊपर किसी का भी control नहीं है. ऐसे में इसकी कीमत में काफी उतार-चढ़ाव आते रहते है. इसके अलावा आपका बिटकॉइन अकाउंट कभी भी हैक हो सकता है. ऐसे में इसमें कोई भी आपकी मदद नहीं कर सकता है.

कारोबारी का अपहरण कर बिटकॉइन वॉलेट से लूटे 1.3 करोड़ रुपये

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। जैसे-जैसे लोगों ने अब पैसे पर्स की जगह डिजिटल वॉलेट में रखने शुरू कर दिए है, वैसे-वैसे ही असमाजिक तत्वों ने भी उन्हें लूटने का तरीका बदल लिया है। कुछ तो एक बंद कमरे से ही आपके अकाउंट को खाली कर देते है, जिसे आमतौर पर हैकिंग नाम दिया जाता है लेकिन कुछ अभी भी हथियारों के दम पर इस काम को अंजाम दे रहे है।

ताजा मामला उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ का है, जहां कुछ बदमाशों ने एक कारोबारी का अपहरण कर 1.3 करोड़ के बिटकॉइन जबरन अपने खाते में ट्रांसफर कर लिए। हालांकि, सभी आरोपी फिलहाल पुलिस की गिरफ्त में है। इस मामले में पुलिस ने कार्रवाई करते हुए तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार किए गए इन तीन लोगों की पहचान संदीप प्रताप सिंह, विजय प्रताप सिंह और राजवीर सिंह के रूप में हुई है। पुलिस ने इनके पास से 30 हजार रुपये नकद, बिटकॉइन वॉलेट क्या है? एक देशी पिस्टल, तीन जिंदा कारतूस, पांच मोबाइल फोन और एक कार बरामद की है।

ये भी पढ़े … क्या प्रेग्नेंट है अंकिता लोखंडे? पति संग रोमांटिक तस्वीर शेयर कर सुर्खियों में आई एक्ट्रेस

पुलिस की ओर से जारी बयान में कहा गया है गिरफ्तार आरोपियों को पहले से जानकारी थी कि यह कारोबारी क्रिप्टोकरंसी का इस्तेमाल करता है। तीनों ने कालिंदी पार्क के पास इंद्रप्रस्थ ग्रैंड के कारोबारी अर्जुन भार्गव को 7 अगस्त को बाराबंकी में प्लॉट दिखाने के बहाने अगवा किया था।

जिसके बाद उन्होंने कारोबारी को एक घर में बंधक बनाया और उसके साथ मारपीट की। फिर बन्दूक की नोक पर बिटकॉइन वॉलेट से आरोपियों ने अपने बिटकॉइन अकाउंट में 1.3 करोड़ रुपये ट्रांसफर किए।

ये भी पढ़े … ट्विटर डील कैंसिल होने के बाद एलोन मस्क खरीदेंगे मैनचेस्टर यूनाइटेड?

डीसीपी प्राची सिंह ने कहा कि अपहरणकर्ता, जिन्होंने रियल एस्टेट डीलर होने का नाटक किया, भार्गव से मिले और उन्हें बाराबंकी ले गए।

उन्होंने आगे कहा कि पीड़िता की पत्नी निधि भार्गव ने एफआईआर में कहा कि अपहर्ताओं ने उनके पति को बंदूक का डर दिखाकर पासवर्ड बताने के लिए मजबूर किया और फिर सभी बिटकॉइन अपने खाते में ट्रांसफर कर दिए।

रेटिंग: 4.50
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 145